d8eef6a56c99d87b81e4fd3ff23419d8d21bfd52

रेसिपी :- लुत्फ उठाएं सर्दियों में उड़द दाल की पिन्नियों का

Follow on

सर्दियां शुरू होते ही कुछ चीजों का नाम रह रह कर आसपास में उठने लगता है। इसमें एक तो सरसों का साग और मक्के की रोटी है, जिसकी रेसिपी हम आपको पहले ही बता चुके हैं और दूसरी हैं पिन्नियां। यह पंजाब में काफी फेमस हैं। पिन्नी आटे, उड़द दाल और मेवों से बनती है। आज हम आपको उड़द दाल की पिन्नी की रेसिपी बता रहे हैं।

सामग्री :
3/4 कप उड़द दाल
1 1/2 कप चीनी/शक्कर
3/4 कप मावा (150 ग्राम)
1 कप घी
2 टीस्पून इलायची पाउडर
2 टेबलस्पून गोंद
100 ग्राम काजू, बारीक काट लें
100 ग्राम बादाम, बारीक काट लें
1/4 कप सूजी
2 1/2 कप पानी

विधि : 
उड़द दाल को साफ कर धो लें। इसे एक पैन में पानी डालकर 2 घंटे के लिए भिगोकर रख दें। भीगी दाल का पानी छान लें। इसे मिक्सी में थोड़े 
से पानी के साथ डालकर गाढ़ा दरदरा पेस्ट बना लें।अब कड़ाही में घी डालकर हल्का गरम करें। 50 ग्राम घी बचा लें। इससे ड्राई-फ्रूट और गोंद 
भूनेंगे। घी के गर्म हो जाने पर पहले सूजी डालें। इसके बाद पिसी हुई उड़द दाल डालकर अच्छी तरह मिलाएं।कड़छी से चलाते हुए सुनहरा होने 
तक दाल के पेस्ट को भून लें। जब यह भुन जाएगा तो दाल से घी अलग होता दिखने लगेगा और अच्छी महक भी आने लगती है। इस मिश्रण को 
एक प्लेट पर निकाल लें।इसके बाद कड़ाही में मावा डालकर हल्का ब्राउन होने तक भून लें। मावा भूनने के लिए आंच धीमी ही रखें। मावा भुन जाए
तो इसे भी एक कटोरी में निकाल लें। कड़ाही को टिश्यू से पोंछ लें। इसमें में बचा हुआ घी डालकर गर्म करें। घी हल्का गर्म होने पर इसमें गोंद 
डालकर धीमी आंच पर लगातार चलाते हुए भून लें।गोंद जब फूलकर बड़ा हो जाए और इसका रंग बदल जाए तो इसे निकाल लें। गोंद को मीडियम
आंच पर ही भूनें क्योंकि तेज आंच पर भूनने पर गोंद बाहर से तो ब्राउन हो जाएगा, लेकिन अंदर से कच्चा रह सकता है।भुनी गोंद को अलग प्लेट 
में निकाल लीजिए। हल्का-सा ठंडा होने पर कड़छी या बेलन दबाव देते हुए दरदरा कूट लें। अब बचे हुए घी में काजू और बादाम डालकर 1-2 
मिनट तक भून लें। कड़ाही से निकाल कर प्लेट पर रखें।

चाशनी बनाएं
इसके लिए पैन में चीनी और 1/2 कप पानी डालकर मीडियम आंच पर रखें। पिन्नियों के लिए दो तार की चाशनी बनानी है। जब चाशनी में उबाल 
आने लगे तो इसे 2-3 मिनट तक और अच्छी तरह से पका लें। चाशनी बन गई है या नहीं, चेक करने के लिए इसकी 2-3 बूंदें प्लेट में निकालकर
रख लीजिए। अब इसको उंगली और अंगूठे के बीच में ले लें। अगर चाशनी में से चिप-चिप महसूस होती है और इसमें से 2 या 1 लम्बा तार 
निकलता दिखाई पड़े तो चाशनी बनकर तैयार हो चुकी है।चाशनी को हल्का ठंडा होने दीजिए और फिर इसमें भून कर रखी हुई दाल डाल कर मिला 
दीजिए। इसमें भूने हुए काजू- बादाम और पिसी हुई गोंद भी डालकर अच्छे से मिला लें। इस मिश्रण को इतना ठंडा होने दें ताकि आराम से हाथ 
में ले सकें। अब मिश्रण में इलायची पाउडर और मावा डाल कर मिला लें। इसमें बचा हुआ घी भी डालकर अच्छी तरह से मिक्स कर लें। पिन्नी 
बनाने के लिए मिश्रण तैयार है। इस मिश्रण को थोड़ा-थोड़ा हाथ में लेकर और दबा-दबा कर मन चाहे आकार के लड्डू बना लें। फिर हल्का-सा 
दबा दें। जिससे इनका शेप आयताकार हो जाएगा। मिश्रण से पिन्नी बना लें। इसके बाद पिन्नियों पर कटी बादाम लगा दें। उड़द दाल की पिन्नी को 
एक महीने तक रखा जा सकता है।

पिन्नी जो स्वास्थ्य के लिए बहुत लाभदायक होती है. सर्दियों के मौसम में तो मुख्यत: प्रमुख मिठाई होती है ये पिन्नी. पिन्नी पारम्परिक पौष्टिक मिठाई 
है, जो शरीर में गर्माहट एवं ताकत का संचार करती है, सर्दी, जुकाम, खासी, जोड़ों के दर्द सभी में बहुत फायदा पहुंचाती है. उड़द दाल से बनी
पिन्नी बहुत ही स्वादिष्ट मिठाई है, आप इसे किसी भी खास अवसर पर या त्यौहार इत्यादि में बनाएं और इसके स्वाद का मजा़ लीजिए.

परोसिये
उड़द दाल पिन्नी तैयार हैं. पिन्नी को अच्छे से ठंडा और सैट हो जाने पर एअर टाइट कन्टेनर में भर कर रख लीजिये 
और 1 महिने तक जब भी आपका मन करे कन्टेनर से निकाल कर खाइये.

सुझाव

  • सभी चीजों को अच्छे और सही तरह से भूनना जरूरी होता है और मिश्रण भी अच्छे से मिक्स होना चाहिए तभी पिन्नी अच्छी बन पाती है.
  • अगर चाशनी में गंदगी दिखाई दे रही हो तो आप इसमें 1-2 टेबल स्पून दूध डाल दीजिए इससे चाशनी में झाग बनकर गंदगी अलग हो जाती है और आप इस झाग को कलछी से निकाल कर अलग कर दीजिए इससे चाशनी साफ बनकर तैयार हो जाती है.
  • 18-20 पिन्नी बनाने के लिये
  • समय 90 मिनिट

उड़द दाल लाडू ऐसे बना सर्दी में में आप तंदुरस :- ओर रेसिपी 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

d8eef6a56c99d87b81e4fd3ff23419d8d21bfd52