दैनिक जीवन

Healthcare and beauty

Train’s में सही खाना नहीं देने पर ठेकेदारों को 155 लाख का जुर्माना लगा, जानिए क्यों

Follow on

Train’s में यात्रियों को ठेकेदारो द्वारा लगातार सही खाना नहीं परोसे जाने पर रोक लगाने के लिए सरकार ने रेलवे के खाने के ठेकेदारों पर करीब 155 लाख रुपए का जुर्माना लगाया है। इसके बाद भी लगातार यात्रियों की शिकायतें सरकार को मिल रही हैं।

संसद में एक सवाल के जवाब में सरकार ने बताया कि इस साल 2018 में अक्टूबर महीने तक रेलवे में खराब खाने को लेकर 7500 से ज्यादा शिकायतें मिल चुकी हैं। इनमें से 6261 शिकायतें आईआरसीटीसी के जरिए सरकार को मिली हैं। इन शिकायतों में लोगों ने खराब खना परोसे जाने की बात की कही है। लोगों ने खराब पानी बेचे जाने को लेकर भी शिकायतें की हैं। कुछ लोगों ने ट्रेनों और रेलवे स्टेशनों में नियमों के उल्लघन की भी शिकायतें की हैं।

सरकार ने बताया कि इन शिकायतों के परिणाम स्वरूप रेलवे वेंडर्स (ठेकेदारों) के खिलाफ सख्त कार्रवाई की गई और पूरे साल में करीब 155 लाख रुपए का जुर्माना लगाया गया। सरकार ने बताया कि सभी माध्यमों से कुल 7529 शिकायतें मिली और उनके आधार पर ठेकेदारों के खिलाफ 1.55 करोड़ रुपए का जुर्माना लगाया गया। 2322 ठेकेदारों को नोटिस भेजा गया, एक लाइसेंस रद्द किया गया जबकि 555 शिकायतें आधारहीन पाई गईं।

सरकार ने बताया कि खाने की गुणवत्ता बेहतर करने के लिए फूड सेफ्टी सुपरवाइजर्स की नियुक्ति की गई है। यहां लोग सुपरवाइजर को खाने के संबंध में शिकायत दे सकते हैं जिसके बाद खाने को लैब में टेस्ट के लिए भेजा जाएगा और आगे की कार्रवाई की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *