दैनिक जीवन

Healthcare and beauty

Rajasthan election result 2018 : किस की बनेगी सरकार तय होगा आज

Follow on

जयपुर। राजस्थान विधानसभा चुनाव के लिए 7 दिसम्बर को मतदान होने के बाद अब सभी दलीय व निर्दलीय प्रत्याशियों को मतगणना की तारीख यानी कि 11 दिसम्बर का बड़ी बेसब्री से इंतजार है, जो आज सुबह 8 बजे से मतगणना शुरू होने के बाद समाप्त हो जाएगा। इन प्रत्याशियों में वे दिग्गज नेता भी शामिल हैं, जिनके इर्दगिर्द लगभग एक दशक से भी ज्यादा समय से राजस्थान की राजनीति रहती है। इनमें प्रमुख रूप से भाजपा नेता व निवर्तमान मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे, गुलाब चंद कटारिया, कांग्रेस नेता व मुख्यमंत्री पद की रेस में सबसे आगे माने जा रहे पीसीसी चीफ सचिन पायलट, पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, भाजपा नेता जसवंत सिंह के पुत्र कांग्रेस नेता मानवेंद्र सिंह व नेता प्रतिपक्ष रामेश्वर डूडी शामिल हैं।

लाइव रिजल्ट :- Rajasthan election result

राजस्थान की 200 में से 199 विधानसभा सीटों पर कुल 2274 उम्मीदवार मैदान में है। कांग्रेस ने 194 और भाजपा ने 199 प्रत्याशियों को चुनाव मैदान में उतारा है। इस चुनाव में दोनों दलों के जिन दिग्गजों की सीट कांटे के मुकाबलों में फंस गई है, उनमें कांग्रेस में पूर्व केन्द्रीय मंत्री सीपी जोशी की नाथद्वारा, उदयपुर शहर में कांग्रेस की गिरिजा व्यास व भाजपा के गुलाबचंद कटारिया, नोखा से कांग्रेस के नेता प्रतिपक्ष रामेश्वर डूडी की सीटें भी शामिल हैं

मुख्यमंत्री राजे अपनी परंपरागत सीट झालरापाटन से चौथी बार तो वहीं पूर्व मुख्यमंत्री गहलोत सरदारपुरा से पांचवी बार चुनाव मैदान में हैं। वसुंधरा राजे के सामने इस बार भाजपा के नेता जसवंत सिंह के बेटे और भाजपा छोड़ कांग्रेस में शामिल हुए मानवेंद्र सिंह चुनाव मैदान में हैं। वहीं गहलोत के सामने पिछली बार के प्रतिद्वंदी व भाजपा प्रत्याशी शंभू सिंह खेतासर चुनाव लड़ रहे हैं। कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष सचिन पायलट पहली बार विधानसभा चुनाव लड़ रहे हैं। उनके सामने मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के विश्वस्त मंत्री यूनुस खान मैदान में हैं।

इसके अलावा सपोटरा से राज्यसभा सांसद डॉ. किरोणीला मीणा की पत्नी और पूर्व मंत्री गोलमा देवी और कांग्रेस विधायक दल के उपनेता रमेश मीणा, डीग कुम्हेर से जाट नेता और कांग्रेस प्रत्याशी विश्वेंद्र सिंह और भाजपा से पूर्व मंत्री दिवंगत डॉ. दिगंबर सिंह के पुत्र डॉ शैलेश सिंह और अंता में कृषि मंत्री प्रभुलाल सैनी और कांग्रेस के पूर्व मंत्री प्रमोद जैन भाया के मुकाबले भी कड़े होने की संभावना है। बीकानेर पश्चिम से कांग्रेस के पूर्व मंत्री बीडी कल्ला और भाजपा ने तीन बार के विधायक गोपाल जोशी और सांगानेर में कांग्रेस के पुष्पेंद्र भारद्वाज, भाजपा के प्रत्याशी महापौर अशोक लाहोटी के बीच भाजपा से बगावत कर नई पार्टी भारत वाहिनी पार्टी से घनश्याम तिवाड़ी के बीच होने वाले त्रिकोणीय मुकाबले पर भी नजरें रहेंगी। 

वहीं भाजपा से बागी होकर राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी के बैनर तले चुनाव लड़ने वाले हनुमान बेनीवाल खींवसर में कांग्रेस के सवाई सिंह तथा भाजपा के रामचंद्र उत्ता के सामने चुनौती पेश कर रहे हैं।

राज्य में हुआ कुल 74.21 फीसदी मतदान 
राज्य के मुख्य निर्वाचन अधिकारी आनंद कुमार द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक 7 दिसम्बर को 74.21 प्रतिशत मतदान हुआ था। उन्होंने बताया कि सबसे ज्यादा मतदान जैसलमेर जिले में 84.66 प्रतिशत हुआ, वहीं सबसे कम मतदान पाली जिले में 64.86 प्रतिशत हुआ। राज्य के कुल चार करोड़ 74 लाख 37 हजार 761 मतदाताओं में से कुल तीन करोड़ 52 लाख 4 हजार 316 मतदाताओं ने मतदान किया था।

आपको बता दे कि राज्य की कुल 200 सीटों के लिए 12 नवंबर से नामांकन की प्रक्रिया शुरु हुई थी, लेकिन 29 नवम्बर को अलवर जिले की रामगढ़ सीट से बसपा प्रत्याशी लक्ष्मण सिंह के देहांत के बाद इस सीट का चुनाव रद्द कर दिया गया था।

Rajasthan exit poll : जानकारी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *