d8eef6a56c99d87b81e4fd3ff23419d8d21bfd52

तिल मावा गजक : !!Sankranti Special!! घर पर बनाए तिल मावा की गजक

Follow on

!!Sankranti Special!! घर पर बनाए तिल मावा की गजक

गजक इंडिया के लोगो को बहुत पसंद आता है | इसे हम ज्यादातक ठंढी के दिनों में बनाया जाता है | गजक को भी हम कितनो तरीके से बनाते है जैसे:- तिल के गजक, नारियाक के गजक, बादाम के गजक आदि |गजक को बहुत लोग चिक्की भी कहते है |तिल के गजक को हम संक्रांति के दिन बिलकुल खाते है | इसलिए ये थोड़ा ज्यादा स्पेशल है हमारे लिए….
तो आज मैं आपके लिए तिल मावा का गजक रेसिपी ले हु , जिसे बनाना बहुत ही आसान है और इसका टेस्ट भी लाजबाब होता है | तो चलिए बनाते है तिल और मावा के गजक…. तिल और मावा के गजक बनाने के लिए हमें चाहिए….

सामग्री:-

  • टिल(Sesame): 200 ग्राम
  • चीनी(Sugar): 150 ग्राम
  • पानी(water): 50 ग्राम
  • खोया/मावा(Mawa): 2100 ग्राम
  • इलाइची पाउडर(cardamom): 1/2 चम्मच
  • बादाम(Coped almond): 7-8
  • पिस्ता(Coped Pistachios):- 7-8

गजक बनाने की विधि:-

सबसे पहले गैस पे कढ़ाई रखे और टिल को डाल कर उसे मध्यम आंच पे भुने |
2. जब वो भूनकर हल्का लाल दिखने लगे तो उसे किसी प्लेट में निकाल दे |
3. अब उसी कढ़ाई में चीनी को डाल दे और और थोड़ा सा पानी डालकर उसका चासनी बनाएंगे |
4. जब चाशनी में पूरी चीनी घुल जाए तो उसमे मावा को डाल दे और उसे मिलाये |
5. मावा को करीब दो मिनट तक पकाने पे वो कुछ ऐसी दिखने लगेगी |

6. अब उसमे भुनी हुई तिल को डाल दे और उसे अच्छे से मिलाये |
7. जब टिल मिलकर थिक (गाढ़ा) हो जाए तो गैस को बंद कर दे |
8. अब किसी चौड़े बर्तन जैसे शब्जी कटर पे एक बड़ा सा प्लास्टिक रख दे और उसपे चारो तरफ थोड़ा तेल लगा दे |
9. फिर उसमे टिल के मिक्सचर को डाल दे और उसका पतला सा फैला दे |
10. फिर उसके ऊपर कटी हुई बादाम और पिस्ता डाल दे और उसे हल्का दबा दे |
11. फिर उसे अपने हिसाब से उसे काट ले और ठंडा होने ले किये छोड़ दे |
12. ठंढा होने के बाद उसे थोड़ कर अलग कर दे और हमारी तिल और मावा की गजक बनकर तैयार है |

इसे गजक को आप कंटेनर में रखकर महीनो तक खा सकते है |

सुझाव:-
  • तिल को भूनते टाइम वो फूटती है तो आप घबराये नहीं |
  • तिल को भूनते टाइम हमेशा चलाते रहे |
  • चासनी को ज्यादा नहीं बकाये नहीं तो गजक कड़ा (हार्ड) बनेगी |
  • गजक को काटने के बाद उसे ठंढा होने के लिए रखे नहीं थो ठंडा होने के बाद गजक को काटने में परेशनी होगी |

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

d8eef6a56c99d87b81e4fd3ff23419d8d21bfd52