दैनिक जीवन

Healthcare and beauty

Birth mark – 5 सरल होम उपचार चेहरे मौसा के स्वाभाविक रूप से छुटकारा पाएं करने के लिए By:-Prajapati

Follow on

Birth mark अगर गर्दन के पीछे हो या कोई ऐसी जगह हो जहां सबकी नजर नहीं जाती… तो लोगों के लिए ये चिंता का विषय नहीं होता। लेकिन कई बार मस्से चेहरे के ऐसी जगह पर होते हैं जहां से वो दूसरों को आसानी से दिख जाते हैं।


ये birth mark दिखने में अच्छे नहीं लगते। कई बार ये मस्से, कैंसर का रुप भी धारण कर लेते हैं। तो ऐसी स्थिति में अच्छा है कि आप मस्सों को हटा दीजिए। इस लेख में मस्से हटाने के लिए प्याज का नुस्खा दिया गया है वो एक रामबाण इलाज है जो आप आसानी से घर में इस्तेमाल कर सकते हैं। मस्से हटाने के घरेलू उपाय के बारे में इस लेख में विस्तार से जानें।

कैंसर कारक भी होते हैं मस्से
अगर आपको जन्म के समय से ही कोई मस्सा है तो ये अहानिकारक है। लेकिन मस्से जन्म के बाद हुए हैं या बड़े होने पर हुए हैं तो समय बीतने के साथ ये कैंसर का रूप धारण कर सकते हैं।

अगर ये मस्से किसी इंसान को 30 की उम्र के बाद होते हैं तो कैंसर होने का खतरा काफी बढ़ जाता हैं।

इन स्थिति में मस्से हैं खतरे
अगर शरीर के किसी भी मस्से से खून निकले तो इसे नजरअंदाज ना करें।
मस्सों में होने वाली खुजली को भी हल्के में ना लें।
इन स्थितियों में एक बार चिकित्सक से जरूर मिलना चाहिए और वर्तमान में जब कैंसर काफी सामान्य बीमारी होते जा रही है तो चिकित्सक से मिलने में कोई बुराई नहीं है।

क्यों होते हैं ये मस्से
पैदा होने के बाद होने वाले मस्सों का मुख्य कारण इंफैक्शन है। इन मस्सों का कारण पेपीलोमा नाम का वायरस है। त्वचा पर पेपीलोमा वायरस के कारण छोटे, खुरदुरे कठोर दाने उभर आते हैं जिसे मस्सा कहते हैं। सामान्य तौर पर मस्से काले और भूरे रंग के होते हैं लेकिन कई बार ये त्वचा के ही रंग के होते हैं जिस कारण लोगों को ये जल्दी दिखाई नहीं देते और इस कारण लोग भी इनके बारे में परवाह नहीं करते। मस्से 8 से 12 प्रकार के होते हैं। जिनसे आप मेडीकल ट्रीटमेंट या कुछ घरेलू उपचारों द्वारा हमेशा के लिए छुटकारा पा जा सकते है। लेकिन स्थिति गंभीर होने पर डॉक्टर को तुरंत दिखना चाहिए।

ना काटें, ना फोड़ें
कुछ लोग मस्सों को हटाने के लिए उसे कटवा देते हैं या घर पर ही खुद से काट व फोड़ लेते हैं। लेकिन ऐसा कभी नहीं करना चाहिए। मस्से को काटने और फोड़ने के कारण मस्से के वायरस का शरीर के अन्य हिस्सों में भी जाने का खतरा होता है। जिससे और मस्से हो जाते हैं। कई बार तो मस्से का वायरस एक आदमी से दूसरे आदमी की त्वचा पर भी चला जाता है।

ऐसे करें प्‍याज का इस्तेमाल
प्याज हर तरह से हमारे लिए फायदेमंद है। खाने से लेकर इसके रस को लगाने तक के फायदे हैं। मस्सों के लिए तो ये रामबाण है। मस्सों को हटाने के लिए लगातर बीस से तीस दिनों तक प्याज के रस को मस्सों में लगाएं। जब समय मिले तब प्याज को काटकर मस्सों पर रगड़ें। दिन में दो-तीन बार ऐसा करें। प्याज के रस से मस्सों का वायरस मर जाता है और मस्से जड़ से खत्म हो जाते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *